रीढ़ की हड्डी को बेस्ट बनाने के लिए करिए ये योगास्न

0

नई दिल्लीः हमारी अच्छी पर्सनैलिटी के लिए रीढ़ की हड्डी को बहुत जरूरी माना जाता है। इसके साथ ही ये स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से भी बचाती है। झुककर या किसी गलत तरीके से बैठने की आदत से हमारी रीढ़ की हड्डी में अनेक प्रकार की परेशानियां उत्पन्न हो जाती हैं। जिससे निजात पाने के लिए लोग डॉक्टरों के चक्कर काटते रहते हैं। लेकिन इसका सही इलाज योगा हो सकता है। आप योगा करके अपनी रीढ़ की हड्डी में होने वाली किसी भी प्रकार की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। आइए जानते हैं कि रीढ़ की हड्डी संबंधी समस्या के लिए कौन से आसन लाभदायक होते हैं।

ताड़ासन

ताड़ासन को करने के लिए सबसे पहले आपको खड़ा होना होगा। इसके बाद आप अपनी कमर और गर्दन को एकदम सीधा कर लें। दोनों हाथों को अपने सिर से ऊपर की ओर ले जाएं, सांस लेते हुए अपने पूरे शरीर को ऊपर की तरफ खींचें। इस खिंचाव को अपने पैरों की उंगली समेत हाथों की अंगुलियों तक फील करें। आपको इसी अवस्था में कुछ समय तक रहना होगा और सांस को खींचना होगा। इसके बाद सांस को धीरे-धीरे छोड़ते हुए अपने पूरे शरीर को पहले वाली अवस्था में लेकर जाएं। इस योगासन को तीन या चार बार करने से लाभ मिलेगा।

भुजंगासन

भुजंगासन व्यायाम को रीढ़ की हड्डी के लिए सबसे बेहतर माना जाता है। इसके लिए आपको पेट के बल जमीन पर लेटना होगा। इसके बाद अपना दोनों पैरों को सीधा करने मिलाना होगा। इसके बाद अपने दोनों हाथों को चेहरे के सामने लाएं। दोनों हाथों की उंगलियों सामने रखकर पान का आकार बनाएं। इसके बाद इस उस पान के आकार में अपनी थोड़ी को रखें। इसके बाद सांस लीजिए और धीरे-धीरे दोनों हाथों को सीधा करें। कुछ टाइम तक इस स्थिति में रुकें। इसके बाद सांस को धीरे-धीरे छोड़ें और पहली वाली अवस्था में आजाएं।

बालासन

बालासन को करने के लिए आपको सबसे पहले घुटनों के बल बैठना होगा। इसके बाद आप अपने शरीर के पूरे भार को एड़ियों पर डालिए। फिर गहरी सांस के साथ आगे की तरफ झुक जाएं। यह करते समय सीना आपकी जांघों से छूते हुए माथे से जमीन को छूने का प्रयार करें। कुछ समय इस अवस्था में रहते हुए वापस पहली वाली अवस्था में आजाएं।

मकरासन

इस आसन को करने के लिए पहले आप पहले जमीन पर सपाट पेट के बल लेट जाएं। इसके बाद अपनी कोहनिंयों के बल पर अपने सिर और कंधे को उठाएं। इसके बाद अथेलियों पर थोड़ी को टिकाएं। फिर आंखो को बंद करें और पूरे शरीर को ढीला छोड़ दें।

Share.

About Author

Leave A Reply