दिल्ली के ई-रिक्शा की अब नोएडा में नो एंट्री

0

नोएडा: एआरटीओ-यातायात पुलिस द्वारा दिल्ली के ई-रिक्शा की नोएडा में ‘नो एंट्री’ का ताना-बाना बुना जा रहा है। शहर में आए दिन लगने वाले जाम के झाम से निजात पाने को प्रतिबंध की कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। एआरटीओ व ट्रैफिक पुलिस ने यह मान लिया है कि शहर की सड़कों पर स्मूथ यातायात के लिए अवैध रिक्शा पर शिकंजा कसना बेहद जरूरी है।

बुधवार को सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन) एके पाण्डेय ने अपने कार्यालय में नोएडा के ई-रिक्शा डीलर एसोसिएशन के साथ बैठक की। बैेठक में अवैध रिक्शा पर शिकंजा करने के लिए उनसे सहयोग मांगा। एआरटीओ ने डीलरों से कहा कि किसी भी ई-रिक्शा की डिलीवरी बिना पंजीकरण के नहीं कराई जाए। जिस पर सहमति जताते हुए एसोसिएशन ने दिल्ली से नोएडा शहर में आने वाले अवैध रिक्शा पर प्रतिबंध लगाने की बात कही है।

एआटीओ ने एसपी यातायात अनिल झा से बैठक कर इसके विरुद्ध शीघ्र ही संयुक्त अभियान चलाए जाने का आश्वासन डीलर यूनियन को दिया है। उन्होंने फोर्स की कमी का रोना रोते हुए शहर के सभी पंजीकृत 36 डीलर एजेन्सी से भी दिल्ली की अवैध रिक्शा को रोकने के लिए चलने वाले अभियान में सहयोग देने को कहा है। जितने प्वाइंट सीमा पर चिन्हित किए जाएगे, उन पर टीम के साथ डीलर यूनियन के सदस्य भी अभियान में मौजूद होंगे। एआरटीओ का कहना है कि दिल्ली के साथ-साथ नोएडा के बिना पंजीकृत दौड़ रहे रिक्शा के खिलाफ भी सीज की कार्रवाई की जाएगी। बैठक में एक दर्जन से अधिक डीलर मौजूद रहे।

उधर, पुलिस अधीक्षक यातायात अनिल झा का कहना है कि अवैध ई-रिक्शा से अपराधिक घटनओं को अंजाम दिया जा रहा है। इसे रोकने के लिए इन पर शिकंजा करना जरुरी है। इस बाबत एसपी यातायात ने एआरटीओ को पत्र लिखकर अवगत कराया है।

Share.

About Author

Leave A Reply