जाने कौन है कर्नाटक विधानसभा चुनाव की तारीख लीक होने का जिम्मेदार

0
कर्नाटक विधानसभा चुनाव की तिथि लीक होने की  जांच के लिए भारतीय चुनाव आयोग द्वारा गठित समिति ने बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय के नाम का जिक्र ना करते हुए कहा कि इस घटना के लिए के लिए मीडिया आउटलेट जिसने ये खबर दिखाया और साथ ही कर्नाटक के कॉंग्रेस सोशल मीडिया प्रभारी श्रीवत्स से जांच करने की आवश्यकता है।
ईसीआई ने मंगलवार को आधिकारिक चुनाव आयोग की घोषणा से पहले चुनाव तिथि लीक की जांच करने के लिए पैनल की स्थापना की। ईसीआई ने 27 मार्च को कार्यालय के आदेश में कहा कि वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा के तहत छह सदस्यीय समिति, सात दिनों के भीतर इस घटना पर रिपोर्ट देगी।
समिति की जांच के संदर्भ में ये बातें शामिल हैं जिसमें घोषणा के पहले चुनाव तिथि पर अपनी जानकारी के स्रोत के बारे में मीडिया और साथ ही श्रीवत्स से पूछताछ शामिल है। कन्नड़ चैनल (सुवर्ण न्यूज़) से पूछताछ करने की आवश्यकता है कि ऑफिसियल घोषणा से पहले तारीखों की घोषणा कैसे हुई। इसके अलावा पैनल ऑफिसियल भूल की भी जांच करेगी ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए जा सकें।
एक ईसी प्रवक्ता ने कहा कि मंगलवार को पहले जारी किए गए बयान में केवल मालवीय और टाइम्स नाउ का उल्लेख किया गया था क्योंकि ये वो दो नाम थे जो हमारे सामने पहले आए थे। 5 बजे जारी किए गए आदेश में, उनके नाम का उल्लेख नहीं किया गया है, क्योंकि तब तक मालवीय ने चुनाव आयोग को एक पत्र भेजा दिया था जिसमें उन्होंने स्पष्ट किया कि उनकी सूचना का स्रोत टाइम्स नाओ था और श्रीवत्स  ने भी चुनाव तिथि के बारे में ट्वीट किया था। इस संदर्भ में है आयोग के अधिकारी ने कहा, “यह कहना नहीं है कि हमने मालवीय को क्लीन चिट दे दी है। यदि समिति को जरूरत पड़ती है, तो वे उनसे सवाल कर सकते हैं।”
समिति ने मालवीय से प्राप्त जवाब के बाद बुधवार को टाइम्स नाउ और सुवर्णा न्यूज से मिले जवाब को भी जारी किया। मालवीय की तरह श्रीवस्त ने भी टाइम्स नाउ को अपने ट्वीट के स्रोत का श्रेय दिया है और यह दिखाने के लिए उन्होंने स्क्रीनशॉट्स भी संलग्न किए कि चैनल पर समाचार फ्लैश होने के दो मिनट बाद उनका ट्वीट आया था।
कन्नड़ टीवी चैनल सुवर्णा न्यूज ने अपने जवाब में कहा कि यह एक क्षेत्रीय चैनल है, अपने समाचार के लिए राष्ट्रीय समाचार चैनलों पर निर्भर रहता है, जिस समाचार का आप जिक्र कर रहे हैं वह पहले राष्ट्रीय समाचार चैनल टाइम्स नाउ ने दिखाया था।
Share.

About Author

Leave A Reply