मेरठ में भी नीरव मोदी, परिवार सहित करोड़ों का कर्ज लेकर होटल कारोबारी फरार

0

मेरठ : मेरठ में भी नीरव मोदी जैसी घटना सामने आई है। होटल कारोबारी हिमांशु पुरी मेरठ का नीरव मोदी बन गया है। करोड़ों रुपये के कर्ज से बचने के लिए पूरा परिवार मेरठ छोड़कर कहीं चला गया है।चर्चा है कि परिवार विदेश भाग गया है। गुरुवार को दर्जनों की संख्या में देनदारों ने हिमांशु पुरी के शास्त्रीनगर एच-ब्लाक स्थित हिमांशु की कोठी पर पहुंचे तो पता चला कि वे अपने परिवार के साथ फरार हो गए है। इसके बाद देनदारों ने जमकर हंगामा किया। बताया जाता है कि गुस्साए लोगों ने वहां मौजूद एक कर्मचारी की पिटाई कर दी। इसके बाद कोठी पर कुछ देनदारों ने अपना ताला लगा दिया।

इतना ही नहीं, हिमांशु की कोठी के बाहर खड़ी बीएमडब्लू और आॅडी गाड़ियां भी खींचकर एक कारोबारी अपने साथ ले गया। बैंक का करोड़ों रुपये गबन करके देश छोड़कर फरार होने वाले नीरव मोदी की राह पर मेरठ का कारोबारी हिमांशु पुरी चल पड़ा है। हिमांशु पुरी का गढ़ रोड पर होटल हारमनी इन है। परिवार शास्त्रीनगर स्थित कोठी नंबर एच-201 में रहता था। हिमांशु ने एक बड़े बैंक से करीब 25 करोड़ रुपये का कर्जा लेकर आठ सितंबर 2011 में गढ़ रोड पर होटल हारमनी इन बनाया था। करीब एक साल से पुरी जीरो माइल स्थित एसजीएम गार्डन को भी लीज पर लेकर चला रहा था। खुलासा हुआ कि बैंक से जो लोन लिया था, उसे नहीं चुकाने के चलते फरवरी के आखिरी सप्ताह में बैंक ने नोटिस भेजा था। तभी से हिमांशु टेंशन में था।

इसके बाद हिमांशु ने होटल को बेचने के लिए सौदा करना शुरू कर दिया था। बात नहीं बनी तो मंगलवार यानी 6 मार्च 2018 को हिमांशु पुरी, उनके पिता ताराचंद पुरी, और मामा सुनील और पूरे परिवार के साथ घर छोड़कर कहीं चले गए। सभी के मोबाइल नंबर बंद है। व्हाट्सएप और फेसबुक भी बंद है और काफी समय से नहीं चलाए गए। चर्चा आम हो गई कि करोड़ों रुपये के कर्जे के चलते देश छोड़कर पूरा परिवार बाहर विदेश चला गया। इस बात का खुलासा होने के बाद गुरुवार दोपहर हिमांशु की कोठी पर लेनदारों का जमावड़ा लग गया।

Share.

About Author

Leave A Reply