पिता के तनाव से बच्चों के दिमाग पर होता है असर…

0

एक रिसर्च में यह दावा किया गया है कि रोजाना एक पिता का तनाव उसके बच्चे के दिमाग के विकास को प्रभावित करता है। शोधकर्ताओं के मुताबिक, तनाव पिता के शुक्राणुओं को बदल देता है, जिससे बच्चे के दिमाग का विकास बाधित हो सकता है। नया शोध बच्चों के दिमाग के विकास में पिता की भूमिका की बेहतर समझ देता है।

यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड स्कूल के रिसर्चर्स ट्रेसी बेल व अन्य ने नर चूहों पर किए गए प्रयोग में पाया कि उसके क्रोनिक तनाव का मुख्य कारण उसके पिता के शुक्राणु में हुआ जेनेटिक मैटेरियल माइक्रोआरएनए में हुआ उत्परिवर्तन है। यह जीन प्रोटीन की कार्यप्रणाली में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अब शोधकर्ताओं ने इन माइक्रोआरएनए में हुए बदलाव के संबध में नई जानकारियां हासिल की हैं। पिता के शुक्राणुओं के माइक्रोआरएनए में हुए परिवर्तन का मुख्य कारण तनाव है।

रिसर्चर्स ने यह भी कहा कि पिता के जोखिम और बच्चों में बीमारी के जोखिम के बीच संबंधों के बारे में अधिक जानकारी हासिल कर हम इन विकारों को बेहतर ढंग से समझ सकते हैं, जिससे इनका पता लगाने और इन्हें रोकने में कामयाबी मिलेगी। रिसर्चर्स ने यह भी कहा कि पिता के जोखिम और बच्चों में बीमारी के जोखिम के बीच संबंधों के बारे में अधिक जानकारी हासिल कर, हम इन विकारों को बेहतर ढंग से समझ सकते हैं, जिससे इनका पता लगाने और इन्हें रोकने में कामयाबी मिलेगी।

Share.

About Author

Leave A Reply