अमितशाह ने बता ही दिया, आखिर कहां हुई गोरखपुर और फूलपुर में बीजेपी से चूक

0

आखिरकार बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने माना कि यूपी में गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में सपा और बसपा की चुनावी रणनीति बीजेपी की रणनीति पर भारी पड़ी और इसी वजह से उनकी पार्टी की हार हुई है। एक न्यूज चैनल से बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि उन्होंने हार के कारणों का एनालाइज़ के लिए एक कमेटी का गठन किया है। इसकी रिपोर्ट आने परवे उन बिंदुओं पर काम करेंगे। न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान शाह ने बोला कि कि बीजेपी को इसलिए उपचुनावों में हार मिली क्योंकि आखिरी वक्त में सपा और बसपा गठबंधन करके एक साथ आ गए। हालांकि शाह ने ये भी दावा किया कि इन दोनों ही पार्टियों की यह रणनीति 2019 में काम नहीं करने वाली है। अमित शाह ने कहा कि उपचुनाव अक्सर स्थानीय मुद्दों पर लड़ा जाता है। लेकिन आम चुनाव में कई बड़े मुद्दे होते हैं और इन मुद्दों और देश के वरिष्ठ नेताओं को ध्यान में रखकर ही आम चुनावों में कोई वोटर वोट डालने जाता है। वहीं कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए बीजेपी ध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि महज़ 2 सीटें जीत जाने पर कांग्रेस सदन में मिठाई बांट रही है लेकिन उपचुनाव में बीजेपी ने आठ सीटें खोई हैं और इस पर चर्चा तक कई नहीं कर रहा है। कोई भी इस पर ध्यान नहीं दे रहा कि हमने 11 राज्यों में जीत दर्ज की है. दो हफ्ते पहले त्रिपुरा में बीजेपी ने एक बड़ी जीत हासिल की है। वहीं NDA में आई दरार को लेकर भी शाह ने खुलकर बात की। जब उनसे टीडीपी के गठबंधन से अलग होने और शिवसेना के अलग राह चुनने पर सवाल किया गया तो उन्होंने जवाब दिया कि साल 2014 में एनडीए ने 11 पार्टियों के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। इस तरह एक पार्टी के गठबंधन से बाहर हो जाने पर एनडीए पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

Share.

About Author

Leave A Reply