2019 के लोकसभा चुनावों में प्रशांत और मोदी होंगे साथ

0

नई दिल्लीः 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी एक बार फिर से इतिहास रचना चाहेगी, लेकिन क्या ऐसा हो पाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब उसी रणनीतिकार के साथ दोबारा काम करेंगे जिसने उन्हें 2014 के चुनावों में प्रचंड बहुमत के साथ जीत दिलाई थी। सूत्रों से मिली खबरों के अनुसार 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों में प्रशांत किशोर नरेंद्र मोदी के चुनाव अभियान की जिम्मेदारी संभाल सकते हैं। हाल ही में इन दोनों दिग्गजों की एक मुलाकात हुई थी। संभावना जताई जा रही है कि प्रशांत एक बार फिर से मोदी के चुनावी रथ के सारथी बनेंगे।

पिछले बीते कुछ सालों में प्रशांत किशोर ने देश में अपनी अलग पहचान बना ली है। सबसे पहले 2012 में गुजरात विधानसभा चुनाव और उसके बाद 2014 में लोकसभा चुनाव में मोदी को जीत दिलाने के बाद प्रशांत सबकी नजर में हीरो बन गए थे। लेकिन कुछ मनमुटाव के चलते मोदी और प्रशांत की राह अलग-अलग हो गई, लेकिन कुछ समय से दोनों ही एक दूसरे के सीधे संपर्क में है।

प्रशांत किशोर के बीजेपी से अलग होने का कारण अमित शाह और उनके बीच चल रहा मनमुटाव है। अगर फिर से प्रशांत बीजेपी के साथ काम करते हैं तो वह सीधे पीएम मोदी के प्रचार अभियान की कमान अपने हाथों में ले लेंगे।

Share.

About Author

Leave A Reply