फेक न्यूज़” देने पर अब पत्रकार हो जाएंगे निलंबित

0

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने सोमवार को पत्रकारों की मान्यता के लिए दिशानिर्देशों में संशोधन किया है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की अगुवाई में ये निर्णय लिया गया है कि कोई भी पत्रकार चाहे वो प्रिंट का हो या टीवी का उसके द्वारा दी गयी कोई भी नई रिपोर्ट नकली पाई गई तो उसका प्रत्यायन/मान्यता रद्द किया जा सकता है।खबरों के अनुसार प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सहित विभिन्न माध्यमों में नकली खबरों के बढ़ते दौर को देखते हुए, सरकार ने पत्रकारों के प्रत्यायन के लिए दिशानिर्देशों में संशोधन किया है।

नकली न्यूज़ से संबंधित शिकायतें प्राप्त होने पर, वह शिकायत भारतीय प्रेस परिषद (पीसीआई) और न्यूज़ ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन (एनबीए) को भेज दी जाएगी। दोनों एजेंसियों को 15 दिनों के भीतर प्रत्येक शिकायत का निपटारा करना होगा। जांच की अवधि के दौरान, पत्रकार के मान्यता को निलंबित कर दिया जाएगा।

इनमें से किसी भी एजेंसियों द्वारा नकली समाचारों की प्रकाशन या प्रसारण की पुष्टि होने पर, पहले उल्लंघन में 6 महीने और दूसरे उल्लंघन के मामले में 1 साल के लिए मान्यता रद्द कर दी जाएगी। तीसरा उल्लंघन होने पर मान्यता स्थायी रूप से रद्द कर दिया जाएगी।

ये पोस्ट हमारी साथी शिक्षा द्वारा लिखी गई है।

Share.

About Author

Leave A Reply